Recent Posts

युवा कवि को लिखा एक ख़त: “तूजी शेरजी” को लिखे गए कृष्ण बलदेव वैद के एक ख़त का अनुवाद

कल प्रसिद्ध लेखक कृष्ण बलदेव वैद की जयंती है। इस अवसर पर प्रस्तुत है जानी-मानी कवयित्री, लेखिका, अनुवादक तेजी ग्रोवर के नाम उनकी लिखी एक चिट्ठी, जिसका अंग्रेज़ी से हिंदी अनुवाद तेजी ज़ी ने ही किया है- ============================= यह ख़त सम्भवतः 6 जून 1984 से कुछ समय पहले डलहौज़ी में …

Read More »

आलोक शर्मा की तीन कविताएँ

आलोक शर्मा अंग्रेज़ी के वरिष्ठ पत्रकार हैं। टाइम्स ऑफ़ इंडिया समूह में काम करते हैं। हिंदी में कविताएँ लिखते हैं। अपने समय को देखने का एक नज़रिया देते हैं। आज उनकी तीन कविताएँ पढ़िए- ====================   सलाम दानिश —————-     फ़रेब की चकाचौंध में चौंधिया जाती हैं आँखें और …

Read More »

प्रियंका ओम की कहानी ‘शर्त एक सौ अस्सी रुपये की’

आज पढ़िए युवा लेखिका प्रियंका ओम की कहानी ‘शर्त एक सौ अस्सी रुपये की’, यह कहानी ‘पाखी’ में प्रकाशित है। आप यहाँ पढ़कर अपनी राय दे सकते हैं- ============================================= बेटे के चीखने की आवाज़ आ रही थी; वह नींद में डर गया था, शायद कोई बुरा सपना देखा होगा | …

Read More »