Recent Posts

‘आउशवित्ज़: एक प्रेम कथा’ पर अवधेश प्रीत की टिप्पणी

‘देह ही देश’ जैसी चर्चित किताब की लेखिका गरिमा श्रीवास्तव का पहला उपन्यास प्रकाशित हुआ है ‘आउशवित्ज़: एक प्रेम कथा’। वाणी प्रकाशन से प्रकाशित अपने ढंग के इस अनूठे उपन्यास की समीक्षा लिखी है जाने-माने लेखक अवधेश प्रीत ने। आप भी पढ़ सकते हैं- ================= गरिमा श्रीवास्तव की क्रोएशिया-प्रवास डायरी …

Read More »

हान नदी के देश में: विजया सती

डॉक्टर विजया सती अपने अध्यापकीय जीवन के संस्मरण लिख रही हैं। आज उसकी सातवीं किस्त पढ़िए- ====================== जैसे विदेशी पर्यटक भारत आने पर नमस्ते, धन्यवाद बोल लेते हैं, उसी तरह हमने भी विदेशी भाषा के कुछ शब्द सीखे. हंगरी में कोसोनोम – धन्यवाद के साथ अंत में प्रमुख हुआ विसोंत्लातास्रा, …

Read More »

त्रिपुरारि कुमार शर्मा के उपन्यास ‘आखिरी इश्क़’ का एक अंश

युवा शायर-लेखक त्रिपुरारि कुमार शर्मा का उपन्यास आया है ‘आखिरी इश्क़’। पेंगुइन से प्रकाशित इस उपन्यास का एक अंश पढ़िए- =============================== क़रीब सवा सौ बरस पहले मेरा पिछला जनम स्पेन में हुआ था और मैं एक मुसव्विर था। मैंने ज़िन्दगी में बहुत-सी तस्वीरें बनाई थीं मगर “वो एक तस्वीर” बनानी …

Read More »