Recent Posts

रुचि भल्ला का यात्रा संस्मरण “सफ़र के सहयात्री”

रुचि भल्ला की रचनाएँ हँस, तद्भव, पहल, नया ज्ञानोदय, वागर्थ, कादम्बिनी, कथादेश सहित अनेक पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशित होने के साथ इनकी कविताओं का प्रसारण आकाशवाणी के इलाहाबाद, सातारा तथा पुणे केन्द्रों से हुआ। शब्दों से प्रकृति को बांधना-छानना इनकी लेखनी में सहजता से आता है। अपनी भीमाशंकर यात्रा संस्मरण को वे जानकीपुल पर …

Read More »

सुशील कुमार भारद्वाज की कहानी “जाति बदल लीजिए”

सुशील कुमार भारद्वाज ने बहुत कम समय में पटना के साहित्यिक परिदृश्य पर अपनी उल्लेखनीय उपस्थिति दर्ज की है. पेशे से अध्यापक हैं और उनकी कहानियों में बिहार के सामाजिक जीवन के ‘स्लाइसेज‘ होते हैं. उनको पढ़ते हुए बिहार का समकालीन समाज समझ में आता है. जानकीपुल पर आज है …

Read More »

नौसैनिकों के विद्रोह पर आधारित मराठी उपन्यास “बड़वानल” का एक अंश

राजगुरु आगरकर लिखित वड़वानल मराठी का एक प्रसिद्ध उपन्यास है। चारुमति रामदास ने इसका मराठी से हिंदी में अनुवाद किया है। वे EFLU हैदराबाद के रूसी भाषा विभाग से सेवा निवृत्त हुई हैं। नौसेना के एक विद्रोह पर आधारित उपन्यास का यह रोचक अंश पढ़िए आज जानकीपुल पर।  चारुमति रामदास ने रूसी व …

Read More »