Recent Posts

द व्हाइट टाइगर का एक अंश

रोशन भारत, अंधेरा भारत(अरविंद अडिगा के उपन्यास द व्हाइट टाइगर का एक अंश)बंगलोर की ज्यादातर सफल कहानियों की तरह मेरी जीवन कहानी भी बंगलोर से काफी दूर शुरू हुई। अभी तो मैं रोशनी के बीच दिखाई दे रहा हूं, लेकिन मेरी परवरिश अंधेरों में हुई। मैं भारत के एक ऐसे …

Read More »

kitabon ki duniya

इंग्लिश में प्रकाशित ऐसी किताबों के बारे में जो हाल में चर्चा में रही, समय समय पर किताबों की दुनिया लेकर आऊंगा.पाकिस्तान की राजनीति का दूसरा चेहरा अंग्रेजी उपन्यास लेखन के क्षेत्र में भारतीय उपन्यासकारों का दबदबा पहले से कम होता जा रहा है। हाल के बरसों में पाकिस्तान-अफगानिस्तान मूल …

Read More »

‘लाइटर’ जो मेरी कहानी है! (जानकी पुल की पहली पोस्ट)

जानकी पुल की  यह  पहली पोस्ट है. मेरी अपनी कहानी, जो ‘नया ज्ञानोदय’ में प्रकाशित हुई थी- प्रभात रंजन लाइटर   उस दिन के बाद सब उसे बबलू लाइटर के नाम से बुलाने लगे। नाम तो उसका बबलू सिंह था। जबसे वह राधाकृष्ण गोयनका महाविद्यालय में पढ़ने आया था तबसे …

Read More »