Recent Posts

सुलोचना की कहानी ‘पुरुषोत्तम’

इस मेले में युवा लेखिका-कवयित्री-अनुवादिका सुलोचना का कहानी संग्रह नेशनल बुक ट्रस्ट से प्रकाशित हुआ है-अंधेरे में जगमग। उसी संग्रह से एक कहानी पढ़िए- मॉडरेटर ================================================= पुरुषोत्तम  ——– दशरथ चौधरी की तीन संतानों में सबसे बड़ा था पुरुषोत्तम | दशरथ चौधरी जब खाड़ी देश से खूब सारा धन कमाकर लौटे, …

Read More »

अरूण देव के नए संग्रह ‘उत्तर पैग़म्बर’ की कुछ कविताएँ

अरूण देव ‘समालोचन’ वेब पत्रिका के समादृत संपादक हैं, लेकिन सबसे पहले वे कवि हैं। इसी रूप में उनको लगभग दो दशक से जानता रहा हूँ। एक संवेदनशील कवि के रूप में। एक अंतराल के बाद उनका नया संग्रह आया है ‘उत्तर पैग़म्बर‘। राजकमल प्रकाशन से आई इस किताब की …

Read More »

व्योमेश शुक्ल के नए संग्रह ‘काजल लगाना भूलना’ से एक लम्बी कविता

एक अरसे के बाद व्योमेश शुक्ल का कविता संकलन आया है राजकमल प्रकाशन से ‘काजल लगाना भूलना’। कविता में किस्सागोई करने वाले इस कवि के नए संग्रह से एक कविता पढ़िए- मॉडरेटर ============= पोंSSSSSSSSSSSS यार, ख़ूब मन लगाकर शादी कीजिए फिर ख़ूब मन लगाकर बनारस आ जाइए सुनिए उस कारख़ाने …

Read More »