Recent Posts

अरूण देव के नए संग्रह ‘उत्तर पैग़म्बर’ की कुछ कविताएँ

अरूण देव ‘समालोचन’ वेब पत्रिका के समादृत संपादक हैं, लेकिन सबसे पहले वे कवि हैं। इसी रूप में उनको लगभग दो दशक से जानता रहा हूँ। एक संवेदनशील कवि के रूप में। एक अंतराल के बाद उनका नया संग्रह आया है ‘उत्तर पैग़म्बर‘। राजकमल प्रकाशन से आई इस किताब की …

Read More »

व्योमेश शुक्ल के नए संग्रह ‘काजल लगाना भूलना’ से एक लम्बी कविता

एक अरसे के बाद व्योमेश शुक्ल का कविता संकलन आया है राजकमल प्रकाशन से ‘काजल लगाना भूलना’। कविता में किस्सागोई करने वाले इस कवि के नए संग्रह से एक कविता पढ़िए- मॉडरेटर ============= पोंSSSSSSSSSSSS यार, ख़ूब मन लगाकर शादी कीजिए फिर ख़ूब मन लगाकर बनारस आ जाइए सुनिए उस कारख़ाने …

Read More »

मुंबई का प्रतिरोध ज़ारी है

जेएनयू में विद्यार्थियों के ऊपर हुए हमले के बाद स्वतःस्फूर्त ढंग से कई स्थानों पर प्रदर्शन हुए। मुंबई में गेटवे ऑफ़ इंडिया पर हुए प्रदर्शन में युवा लेखिका अनुकृति उपाध्याय ने भी भाग लिया था। उन्होंने उस माहौल, उस अनुभव का आँखों देखा हाल लिखा है- ================================ ऑक्युपाइ गेट वे …

Read More »