Recent Posts

kundanlal sehgal

संगीत का कुंदन कुंदनलाल सहगल हिंदी सिनेमा के पहले सुपरस्टार कहे जा सकते हैं। १९३० और ४० के दशक की संगीतमयी फिल्मों की ओर दर्शक उनके भावप्रवण अभिनय और दिलकश प्लेबैक के कारण खिंचे चले आते थे। शरद दत्त की पुस्तक कुंदन उसी गायक-अभिनेता की जीवनी है। उस के. एल. …

Read More »

द व्हाइट टाइगर का एक अंश

रोशन भारत, अंधेरा भारत(अरविंद अडिगा के उपन्यास द व्हाइट टाइगर का एक अंश)बंगलोर की ज्यादातर सफल कहानियों की तरह मेरी जीवन कहानी भी बंगलोर से काफी दूर शुरू हुई। अभी तो मैं रोशनी के बीच दिखाई दे रहा हूं, लेकिन मेरी परवरिश अंधेरों में हुई। मैं भारत के एक ऐसे …

Read More »

kitabon ki duniya

इंग्लिश में प्रकाशित ऐसी किताबों के बारे में जो हाल में चर्चा में रही, समय समय पर किताबों की दुनिया लेकर आऊंगा.पाकिस्तान की राजनीति का दूसरा चेहरा अंग्रेजी उपन्यास लेखन के क्षेत्र में भारतीय उपन्यासकारों का दबदबा पहले से कम होता जा रहा है। हाल के बरसों में पाकिस्तान-अफगानिस्तान मूल …

Read More »