Recent Posts

राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय रंगमंडल अपनी स्थापना का 50 वां वर्ष मना रहा है

राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय का रंगमंडल अपनी पचासवीं वर्षगांठ मना रहा है कुछ लोग के अनुसार इस उपलक्ष्य में शोक सभा होनी चाहिये क्योंकि अब यह अपने अतीत में ही गर्क हो रहा है उसी का बोझ धो रहा है. लेकिन इस अवसर पर एक जलसा हो रहा है और इसी …

Read More »

गंगा जैसे डांसिंग फ़्लोर पर चलती है

हाल में ही वरिष्ठ कवि निलय उपाध्याय साइकिल से कई महीनों की गंगा-यात्रा करके अपने शहर मुंबई लौटे हैं. वे इस यात्रा से जुड़े अनुभवों को कलमबद्ध करने में लगे हुए हैं. एक छोटा सा रोचक अंश उन्होंने जानकी पुल के पाठकों से साझा किया है- मॉडरेटर. =========================================== सुबह का …

Read More »

‘खुशवंतनामा’ का एक अंश

 खुशवंत सिंह की आखिरी पुस्तकों में है ‘खुशवंतनामा: मेरे जीवन के सबक’ है. इस किताब में उन्होंने एक तरह से अपने जीवन का निचोड़ पेश किया है. आज आपके लिए इस किताब का एक अंश, जिसे लिखते समय वे 98 साल के थे. इस किताब का हिंदी अनुवाद मैंने ही …

Read More »