Recent Posts

आधे सफर की पूरी कहानी

अक्सर कई किताबों की इतनी चर्चा हो जाती है कि उसका कोई कारण समझ में नहीं आता जबकि कई अच्छी किताबों पर ध्यान कम जा पाता है. ऐसी ही एक किताब पिछले दिनों पढ़ने को मिली- अर्धकथानक. 1641 में बनारसीदास द्वारा तत्कालीन ब्रजभाषा में लिखी इस आत्मकथा का हिंदी अनुवाद. …

Read More »

दक्षिण एशिया का सबसे बड़ा साहित्यिक पुरस्कार और छह उपन्यास

जबसे घोषणा हुई सबकी नज़र डीएससी प्राइज फॉर साउथ एशियन  लिटरेचर पर है. 50 हज़ार अमेरिकी डॉलर का यह पुरस्कार दक्षिण एशिया में साहित्य का सबसे बड़ा पुरस्कार जो है. पिछले दस-पन्द्रह सालों में अंग्रेजी साहित्य को समृद्ध करने वाले सबसे उर्वर क्षेत्र का अपना पुरस्कार. पुरस्कार केवल उपन्यास पर …

Read More »

हर बशर वीरां सफर ले जाएगा

वीकेंड कविता में आज प्रस्तुत है मनु गौतम की गज़लें. फिल्म इंस्टीट्यूट के ग्रेजुएट मनु ‘देवदास’ में संजय लीला भंसाली के सहायक थे, फिल्म ‘चौसर’ के गाने लिखे, अनेक टीवी धारावाहिकों का लेखन-निर्देशन किया. सबसे बढ़कर वे मूलतः संवेदनशील कवि हैं. यहाँ प्रस्तुत हैं उनकी कुछ गज़लें- जानकी पुल. 1.   …

Read More »