Recent Posts

पटना लिटरेचर फेस्टिवल आज से शुरु

आज से पटना लिटरेचर फेस्टिवल शुरु हो रहा है. ऐतिहासिक शहर में एक ऐतिहासिक आयोजन. दो दिनों तक चलने वाले इस आयोजन की रुपरेखा नीचे दी जा रही है- जानकी पुल. ====================================== 23 मार्च 2013 (शनिवार), तारामंडल ऑडिटोरियम सत्र 1: सुबह 9.30 से 10.30 बजे  भाषा, साहित्य और संस्कृति: उभरते भारत में पहचान की तलाश  आलोक राय, ज्ञान प्रकाश, इम्तियाज अहमद, पवन के. वर्मा, डेजी नारायण  से  ओम थानवी की बातचीत सत्र 2: सुबह 10.30 से 11 बजे  कायनात-ए-नज्म (काव्य पाठ ) …

Read More »

पाकिस्तान समुंदर-ए-कुफ्र में एक रोशन जज़ीरा है!

पाकिस्तान के लेखक हसीब आसिफ के इस लेख की तरफ ध्यान दिलवाया मित्र कवि गिरिराज किराडू ने. जिन्होंने इसे http://hillele.org पर पढ़ा. और वहां यह काफिला से साभार लगा है. सबसे साभार अब आप इसे यहां पढ़िए. क्या व्यंग्य है?- जानकी पुल. =========================================  यहां के लोग कुदरत की तमाम नेअमतों …

Read More »

लेखक का एकांत मृत्यु का एकांत होता है

उदय प्रकाश का उपन्यास ‘पीली छतरी वाली लड़की’ पुराना है, लेकिन सुशीला पुरी ने उसके ऊपर बेहद आत्मीय ढंग से, नए कोण से लिखा है. सोचा साझा किया जाए- जानकी पुल. ==================================================  उदय प्रकाश जैसे विरल,विराट,विपुल,वैविध्य वाले रचनाकार पर कुछ लिख पाने की मेरी सामर्थ्य नहीं। मैं एक अदना सी …

Read More »