Home / Tag Archives: विपिन चौधरी

Tag Archives: विपिन चौधरी

पुरुष थमाते है स्त्री के दोनों हाथों में अठारह तरह के दुःख

दुर्गा के बहाने कुछ कविताएँ लिखी हैं कवयित्री विपिन चौधरी ने. एक अलग भावबोध, समकालीन दृष्टि के साथ. कुछ पढ़ी जाने वाली कविताएँ- जानकी पुल. ================================== 1 एक युग में ब्रह्मा, विष्णु, शिव थमाते है तुम्हारे अठारह हाथों में अस्त्र शस्त्र राक्षस वध  की अपूर्व सफलता के लिये सौंपते हैं शेर की नायाब सवारी कलयुग  में पुरुष थमाते है …

Read More »

हम शहीदाने वफ़ा का दीनों ईमाँ और है

शहीद रामप्रसाद बिस्मिल के जीवन के कुछ प्रसंगों को आधार बनाकर युवा लेखिका विपिन चौधरी ने एक नाटक लिखा है ‘सरफरोशी की तमन्ना’. आपके लिए- जानकी पुल. ——————————————————————————– सरफरोशी की तमन्ना  ( क्रांतिकारी रामप्रसाद बिस्मिल पर आधारित लघु नाटक  ) पात्र परिचय 1 रामप्रसाद बिस्मिल 2 बिस्मिल की माताज़ी, मूली …

Read More »