Home / Tag Archives: सैयद एस. तौहीद

Tag Archives: सैयद एस. तौहीद

जाना गुलज़ार अंजाना गुलज़ार

गुलज़ार साहब के गीतों की एक दिलचस्प रीडिंग की है सैयद एस. तौहीद ने- मॉडरेटर ================================================ आप गुलज़ार के दीवाने पता नहीं इसे कैसे लेंगे।लेकिन मेरी माने गुलज़ार साहेब को खुद को रिपीट करने से परहेज़ नहीं करते। लेकिन यह दक्ष काम गुलज़ार  समान लेखक ही कर सकते हैं। वो …

Read More »

चार्ली चैपलिन की जयंती पर विशेष

आज चार्ली चैपलिन की जयंती है. ऐसे में उनकी फिल्म ‘द किड’ को याद किया है युवा फिल्म अध्येता सैयद एस. तौहीद ने. आजकल बच्चों को लेकर जिस तरह हमारे समाज की संवेदना छीजती जा रही है वैसे में इस फिल्म को याद करना प्रासंगिक भी है- मॉडरेटर ================= चार्ली …

Read More »

सुरेन्द्र नाथ उर्फ़ ‘बॉम्बे सहगल’ के बारे में आप कितना जानते हैं?

गुजरे जमाने के स्टार सुरेन्द्रनाथ उर्फ़ बॉम्बे सहगल को याद करते हुए एक अच्छा लेख सैयद एस. तौहीद का- मॉडरेटर ============================================================= किसी ने नहीं सोचा होगा कि वकालत की डिग्री रखने वाले सुरेंद्रनाथ उर्फ सुरेंद्र हिंदी सिनेमा के बड़े स्टार बनेंगे। लेकिन ऊपर वाला उनमें एक अलग मिजाज देख रहा …

Read More »

ख्वाजा अहमद अब्बास की 30 वीं पुण्यतिथि पर तौहीद का लेख

सोद्देश्य सिनेमा को समर्पित फिल्म लेखक, निर्देशक ख्वाजा अहमद अब्बास की आज पुण्यतिथि है. उनकी लेखन-कला, उनकी सिनेमा कला को याद करते हुए एक बढ़िया लेख लिखा है सैयद एस. तौहीद ने- जानकी पुल. ======================   उन दिनों वी शांताराम की एक द्विभाषी फिल्म ‘दुनिया ना माने’ बनी थी। बांबे क्रानिकल …

Read More »

‘मिर्ज्या’ फिल्म आई भी चली भी गई!

राकेश ओमप्रकाश मेहरा की फिल्म ‘मिर्ज्या’ पर सैयद एस. तौहीद की टिप्पणी- मॉडरेटर  ==========================================================   राकेश ओमप्रकाश मेहरा की ‘मिर्जिया’ रिलीज़ हुई.. आपने देखी? दो कहानियों को साथ लेकर चलती इस फ़िल्म के एक छोर पर पंजाब की लोककथा मिर्जा-साहिबा का युग है. दूसरी कहानी आज के राजस्‍थान के आदिल-सुचि …

Read More »

असाधारण खिलाड़ी को महानायक बनाने वाली फिल्म

धोनी अकेले क्रिकेट खिलाड़ी हैं जो बायोपिक के साथ खेल से विदाई लेंगे। उनका जीवन, उनका कैरियर किसी पुरा-नायक जैसा बनाता है उनको। नीरज पांडे ने उनके ऊपर कमाल की फिल्म बनाई है- ms dhoni-untold story, जिसे सुशांत सिंह राजपूत ने अपने अभिनय से यादगार बना दिया है। इस फिल्म पर सैयद …

Read More »

बुजुर्गों की अहमियत का संदेश फिल्म ‘रूई का बोझ’

चंद्रकिशोर जायसवाल के उपन्यास ‘गवाह गैरहाजिर’ पर सुभाष अग्रवाल ने एक फिल्म बनाई थी रुई का बोझ’. उसी फिल्म पर सैयद एस. तौहीद का लेख- मॉडरेटर================================= आज संयुक्त परिवार एवं उससे जुड़ी मान्यताओ में तेजी से विघटन हो रहा है. जीवनकाल का चार अवस्थाओं में बंटवारा बेमानी सा होता जा रहा है. …

Read More »

अब्बास से जुडी उनके नवासे मंसूर रिजवी की यादें

कल ख्वाजा अहमद अब्बास का जन्मदिन था. आज उनसे जुड़ा एक रोचक संस्मरण. प्रस्तुति सैयद एस. तौहीद की है- मॉडरेटर  ============ मेरी परवरिश बंबई के उसी घर में में हुई,जहां बाबा रहा करते थे। अब्बास साहब को हम मुहब्बत से ‘बाबा’ ही पुकारा करते थे। जुहु के उनके मकान में …

Read More »

प्रेम में रूपांतरण की कथा है जाहनू बोरुआ की फिल्म ‘पोखी

असमिया फिल्म के प्रख्यात निर्देशक जाह्नू बोरुआ की  फिल्म ‘पोखी’ पर सैयद एस. तौहीद का लेख- मॉडरेटर  ===================================================================== वास्तविक शिक्षा स्वयं को अनेक रूपों में अभिव्यक्त करती है.इस संदर्भ में असमिया फिल्मकार जाहनू बरुआ की ‘पोखी’  रेफरेन्स पॉइंट की तरह देखी जा सकती है. पोखी वो यतीम सिन्ड्रेला की कहानी …

Read More »

ऋत्विक घटक का सिनेमा सदा प्रासंगिक रहेगा

40 साल पहले इसी महीने जीनियस फिल्मकार ऋत्विक घटक का देहांत हुआ था. आज उनकी शख्सियत को, उनके सिनेमा को याद करते हुए एक सुन्दर लेख सैयद एस. तौहीद ने लिखा है- मॉडरेटर  ================================= सात फरवरी 1976 कलकत्ता की सुबह को ऋत्विक घटक की असामयिक मौत ने झकझोर दिया था.पूरे …

Read More »