Home / Featured (page 75)

Featured

Featured posts

सर्वे में सामने आया सोशल मीडिया पर हिंदी अंग्रेजी से आगे

अभी स्टोरीनोमिक्स नामक एक कंसल्टेंसी फर्म का सर्वेक्षण सामने आया है जिसमें आंकड़ों के आधार पर यह बताया गया है कि इंटरनेट की बढती पहुँच और राष्ट्रवाद के उभार के कारण सोशल मीडिया पर हिंदी के उपयोगकर्ता बढे हैं, हिंदी की ख़बरें अधिक साझा होने लगी हैं. अगर यही ट्रेंड …

Read More »

उदय प्रकाश की कविता ‘एक भाषा हुआ करती है’

उदय प्रकाश हिंदी के कवि बताये गए सारे कवियों से अधिक क्रिएटिव और समकालीन हैं. उनकी कविताओं में अपनी आवाज सुनाई देती है. नई सदी में उन्होंने हिदी कविता को एक नया मुहावरा दिया है. मातृभाषा दिवस के दिन उदय प्रकाश की इस कविता से अच्छा क्या पढना होगा- मॉडरेटर …

Read More »

बज्जिका मेरा देस है हिंदी परदेस!

आज मातृभाषा दिवस है. समझ में नहीं आ रहा है कि किस भाषा को मातृभाषा कहूं- बज्जिका को, जिसमें आज भी मैं अपनी माँ से बात करता हूँ. नेपाली को, नेपाल के सीमावर्ती इलाके में रहने के कारण जो भाषा हम जैसों की जुबान परअपने आप चढ़ गई. भोजपुरी को, बचपन …

Read More »

जौन एलिया की शायरी और म्यूजिक वीडियो

कहते हैं कि मजाज़ के बाद अगर किसी शायर की कल्ट फोलोविंग हुई तो वह जौन एलिया थे. जौन के मरने के बाद उनकी बढती लोकप्रियता का कारण समझना आसान नहीं है. जबकि आश्चर्यजनक बात यह है कि जौन की शायरी को किसी बड़े ग़ज़ल गायक ने नहीं गाया, न …

Read More »

क्या ‘रंगून’ की कहानी ‘हंटरवाली’ के जीवन से प्रेरित है?

1930 के दशक के आखिरी वर्षों में ‘हंटरवाली’ के नाम से मशहूर नादिया को एक तरह से हिंदी सिनेमा की पहली आधुनिक अभिनेत्री कहा जा सकता है. इस शुक्रवार रिलीज होने वाली विशाल भारद्वाज की फिल्म ‘रंगून’ उसी के जीवन से प्रेरित है. फिल्म में कंगना रानाउत का जो कैरेक्टर …

Read More »

या फ़िल्मी गाने रमता हूं, मैं अल्लाह-अल्लाह करता हूं

इन दिनों एक ओर हिंदी के हार्ट लैंड दिल्ली में जश्न-ए-रेख़्ता यानी उर्दू का फेस्टीवल चल रहा है। दूसरी ओर मुम्बई में एक यंग सा लड़का ‘हुसैन हैदरी’ अपने आप को हिंदुस्तानी मुसलमां होने की बात कहता है। सवाल ये है कि क्या हिंदुस्तानी मुस्लमां जैसी कोई चीज़ होती है? …

Read More »

कुमार विश्वास की आवाज में बच्चन का प्रसिद्ध गीत

आज ही समकालीन हिंदी लोकप्रियता के शिखर कुमार विश्वास का यह म्यूजिक वीडियो सुना. हरिवंशराय बच्चन के प्रसिद्ध गीत ‘रात आधी खींचकर मेरी हथेली’ को कितना अच्छा गाया है कुमार विश्वास ने. इस बात को हम अक्सर भूल जाते हैं कि साहित्य से लेकर राजनीति के मंच तक कुमार ने …

Read More »

उन्होंने ‘लुगदी’ परम्परा को ग्लैमर की ‘वर्दी’ पहनाई

मुझे याद है जब आमिर खान ने अपनी फिल्म ‘तलाश’ का प्रोमोशन शुरू किया था तो वे मेरठ में सबसे पहले वेद प्रकाश शर्मा के घर गए थे. यह हिंदी की लोकप्रिय धारा के लेखन को मिलने वाला विरल सम्मान था. 80 और 90 के दशक में उनके उपन्यासों ने …

Read More »

साहिर के नाम से गीत लिखने वाले जाँ निसार अख़्तर का आज जन्मदिन है

जाँनिसार अख्तर की तीन जन्म तारीखों का उल्लेख आता है- 8 फ़रवरी, 14 फ़रवरी और तीसरी तारीख आज की है यानी 18 फरवरी. जाँनिसार अख्तर का व्यक्तित्व बहुत मिथकीय था. उनके बारे में मजरूह सुल्तानपुरी ने बार-बार कहा था कि उन्होंने साहिर लुधियानवी के नाम से फिल्मों में गीत लिखे …

Read More »

लाल शाहबाज़ कलंदर की दरगाह के बारे में ओम थानवी ने क्या लिखा था?

कल जब टीवी पर यह समाचार देखा कि सूफी फ़कीर शाहबाज़ कलंदर की मजार पर धमाका हुआ है तो मुझे ओम थानवी की किताब ‘मुअनजोदड़ो’ की याद आई. उस किताब में उन्होंने सेवण शरीफ की यात्रा का जिक्र किया है- “बाहर उजाला हो गया था. बस एक कस्बे में रुकी …

Read More »