Recent Posts

मोतिहारी में जन्मा लेखक जो भविष्य देखता था

आज जॉर्ज ऑरवेल की पुण्यतिथि है. यह लेख लिखा है झारखण्ड के पत्रकार-लेखक नवीन शर्मा ने- मॉडरेटर =================== विश्व साहित्य में अंग्रेजी के प्रसिद्ध उपन्यास 1984 और एनिमल फार्म विशिष्ट स्थान रखते हैं। इन कालजयी किताबों के लेखक जार्ज ओरवेल का जन्म 25 जून 1903  बिहार के मोतिहारी में हुआ …

Read More »

छोटे शहर के युवाओं में गंभीरता बढ़ी है

मनीष पुष्कले बेहद चर्चित चित्रकार हैं और साथ ही बेहद संवेदनशील लेखक भी. आज प्रभात खबर में प्रकाशित उनका यह लेख युवाओं को अवश्य पढना चाहिए. जिन्होंने न पढ़ा हो उनके लिए हम प्रस्तुत कर रहे हैं- मॉडरेटर ====================== पिछले कुछ सालों से विभिन्न शहरों, धाराओं और अनेक तबकों के …

Read More »

गाब्रिएल गार्सिया मार्केज़ की कहानी ‘संत’

कुम्भ के मौसम में मार्केज़ की इस कहानी की याद आई. वैज्ञानिकता के असर में हम सभ्यता को इकहरा बनाते-समझते हैं जबकि इसकी कई परतें हैं, कई रूप भी. कहानी का अनुवाद विजय शर्मा ने किया है- मॉडरेटर ================== बाइस वर्ष बाद ट्रास्टवेयरे की पतली रहस्यमयी गलियों में से एक …

Read More »