Recent Posts

सुरेन्द्र मोहन पाठक की आत्मकथा का एक रोचक अंश

सरताज लोकप्रिय लेखक सुरेन्द्र मोहन पाठक की आत्मकथा का दूसरा खंड ‘हम नहीं चंगे… बुरा न कोय’ का एक अंश पढ़िए,पुस्तक का प्रकाशन राजकमल प्रकाशन से हुआ है। कल इस पुस्तक का लोकार्पण दिल्ली के त्रिवेणी सभागार में है। समय हो तो अवश्य आइएगा- मॉडरेटर ==================================== फिर विमल सीरीज का …

Read More »

कहानी में प्रेम है, वासना है, अकेलापन है, दोस्ती है, पार्टियाँ हैं, समंदर है

वरिष्ठ लेखिका ममता कालिया के उपन्यास ‘बेघर’ पर यह टिप्पणी युवा लेखिका अंकिता जैन ने लिखी है- मॉडरेटर ==================================================== पिछले कुछ महीनों से किताबें पढ़ना थोड़ा कम हो गया था। पर अब फिर से ख़ूब सारा पढ़ लेना चाहती हूँ। पढ़ने के लिए जब ममता जी का लिखा यह उपन्यास …

Read More »

‘कॉलिंग सहमत’ के हिंदी संस्करण का विमोचन

पीछे दिनों राज़ी फ़िल्म की बड़ी चर्चा हुई। यह फ़िल्म कॉलिंग सहमत उपन्यास पर आधारित थी। अब इसका हिंदी संस्करण पेंगुइन रैंडम हाउस इंडिया से प्रकाशित होकर आ गया है। पढ़िए लोकार्पण से जुड़ी ख़बरें- मॉडरेटर ======================== 23 अगस्त 2019, नई दिल्ली। नई दिल्ली के कंस्टिट्यूशन क्लब में आज मशहूर …

Read More »